कहानी एक मुस्लिम देश की, जहां लगी है भगवान विष्णु की दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति

भगवान विष्णुअगर आपसे पूछा जाए कि भगवान विष्णु की दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति किस देश में है? तो शायद आपका जवाब होगा भारत। लेकिन भगवान विष्णु की दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति भारत में नहीं बल्कि एक इस्लामिक देश में है।

यह देश है इंडोनेशिया जहा भगवान विष्णु की दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति है

जकार्ता: क्या आप जानते हैं भगवान विष्णु की दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति कहां है? हो सकता है कि आपके मन में उत्तर भारत हो। लेकिन ऐसा नहीं है। भगवान विष्णु की सबसे बड़ी मूर्ति भारत में नहीं बल्कि दुनिया के सबसे बड़े इस्लामिक देश में है, इस देश का नाम है इंडोनेशिया।

इंडोनेशिया दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम बहुल देश

इंडोनेशिया का बाली शहर सबसे बड़ा पर्यटन स्थल है। इस आइलैंड को देखने के लिए हर साल करीब 20 मिलियन लोग यहां आते हैं। बाली में खाने के शौकीन भी बड़ी संख्या में आते हैं। इंडोनेशिया दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम बहुल देश है।

इस देश में दुनिया के 12.7 फीसदी मुसलमान रहते हैं। इंडोनेशिया की 90% हिंदू आबादी बाली में रहती है। बाली इंडोनेशिया के सबसे विकसित हिस्सों में से एक है, जहां राष्ट्रीय स्तर पर 12 प्रतिशत की तुलना में केवल पांच प्रतिशत लोग गरीबी रेखा से नीचे हैं। बाली में लगभग हर गली में एक हिंदू देवता का मंदिर है।

भगवान विष्णु गरुण पर विराजमान हैं

दुनिया की सबसे ऊंची भगवान विष्णु की मूर्ति बाली में मौजूद है। यहां भगवान विष्णु अपने वाहन गरुण पर विराजमान हैं। इस मूर्ति की ऊंचाई 75 मीटर है। यह प्रतिमा उन्गासन पहाड़ी के ऊपर केनकाना सांस्कृतिक पार्क में मौजूद है।

यह भी पढ़े:- Petrol-Diesel की जारी हुई नई क़ीमत, घर से बाहर जाने के पहले करें चेक

अगर इसके आधार की ऊंचाई को जोड़ दिया जाए तो यह दुनिया की सबसे ऊंची तांबे की मूर्ति बन जाती है। इसकी ऊंचाई आधार के साथ 121 मीटर तक बढ़ जाती है, जो दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची मूर्ति होगी। हालांकि, मूर्तियों की ऊंचाई को मापने के दौरान आधार नहीं जोड़ा जाता है।

इंडोनेशिया में हिंदू धर्म

इंडोनेशिया में भी हिंदुओं को परिवर्तित करने की आबादी है। 1960 से 70 के दशक में, जावा के पड़ोसी द्वीप के कई लोग हिंदू धर्म में परिवर्तित हो गए। अगर हम इंडोनेशिया में हिंदुत्व के बारे में बात करते हैं, तो गरुण एयरलाइंस है जिसका नाम भगवान विष्णु के वाहन के नाम पर रखा गया है।

देश के नोट पर भगवान गणेश की तस्वीर भी बनाई गई है। इंडोनेशिया भले ही मुस्लिम बहुल देश हो, लेकिन यहां कई धर्म एक साथ रहते हैं। इंडोनेशिया आज भी अपनी पुरानी संस्कृति को नहीं भूला है। इसका सबसे बड़ा प्रमाण यह है कि 2013 में अमेरिका में इंडोनेशिया के दूतावास में देवी सरस्वती की मूर्ति स्थापित की गई थी।

यह भी पढ़े:  Plastic Ban: आ गया प्लास्टिक का विकल्प, जल्द शुरू करे इस बिजनेस को और कमाए 3-4 लाख महीना