प्यार के लिए टीचर मीरा बनी आरव, जेंडर बदल कर स्कूल स्टूडेंट कल्पना से रचाई शादी

जेंडर

जेंडर–  एलजीबीटीक्यू एक्ट के लागू होने के बाद भारत में समलैंगिक संबंध सामने आए हैं। लोग उनकी सच्चाई को स्वीकार कर रहे हैं और अपने प्यार को दुनिया के सामने ला रहे हैं। सामाजिक बहिष्कार और तानों को दरकिनार कर अपने प्यार को नाम दे रहे हैं। ऐसा ही एक प्यार का किस्सा राजस्थान के भरतपुर से सामने आया है।

जहां एक महिला शिक्षिका ने प्यार की खातिर अपना जेंडर चेंज करा दिया। मामला राजस्थान के भरतपुर जिले की डीग तहसील का है. शासकीय माध्यमिक विद्यालय नगला मोती में एक फिजिकल ट्रेनर और कबड्डी खिलाड़ी मीरा कुंतल ने अपनी साथी कल्पना से शादी करने के लिए अपना लिंग बदलवाया।

यह भी पढ़े:- तहलका मचा रहा ये Charge Card डिवाइस, फोन में लगाते ही जीरो से 100% हो जाती है बैटरी

लिंग परिवर्तन के बाद वह पूरी तरह से पुरुष हो गई है। इन दोनों के प्यार का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 25 दिसंबर 2019 से 2021 तक मीरा ने दिल्ली के एक अस्पताल में अपनी जेंडर चेंज सर्जरी करवाई। इन 3 सालों में कल्पना ने उनका बहुत ख्याल रखा। जेंडर चेंज करवाने के बाद अब वह मीरा से आरव हो गया है।

हाल ही में 4 नवंबर को कल्पना और मीरा (आरव) ने पारंपरिक तरीके से शादी की और सात जन्मों के लिए एक हो गए। आरव के पिता वीर सिंह के मुताबिक मीरा उनकी चार बेटियों में सबसे छोटी थी। बचपन से ही इनका स्वभाव अन्य बहनों से अलग था। मीरा राष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी रह चुकी हैं।

जबकि वह हॉकी और क्रिकेट दोनों में हाथ आजमा चुकी हैं। वर्तमान में वह नगला मोती विद्यालय में शारीरिक शिक्षक हैं। मीरा के पिता आगे बताते हैं कि मीरा यानी आरव को अब उसकी बहनों ने भाई जैसा प्यार दिया है। बहनें भी उन्हें राखी बांधती हैं। जबकि भतीजे भी उन्हें चाचा कहकर संबोधित करते हैं।

यह भी पढ़े:- MP: इस जिले में मिली सोने की खदान, सरकार ने खदान नीलामी की शुरू की तैयारी